• Author
    Posts
  • #895

    Mitr-Chetan
    Keymaster

    ‘मित्र’ द्वारा अभिनेता श्री अमिताभ बच्चन एवं उनके पुत्र श्री अभिषेक बच्चन पर भारतीय झंडा संहिता २००२ एवं राष्ट्रीय गौरव अपमान निवारण अधिनियम १९७१ के उल्लंघन के मामले में गाज़ियाबाद कोर्ट में याचिका दायर की गई है ।

    आखिर क्यों दायर की गई है याचिका ?

    श्री अमिताभ बच्चन एवं उनके पुत्र दोनों ही अत्यधिक प्रसिद्ध हस्तियां है जिन्हें न जाने कितने लोग पसंद करते हैं और उनका अनुसरण भी करते हैं । दूसरी और भारत के गौरव से जुड़े नियमों एवं कानूनों के सम्बन्ध में जागरूकता का बहुत अभाव है । अधिकतर लोग ये नहीं जानते कि तिरंगे को सही ढंग से प्रदर्शित करने के लिए नियमावली है जिस में झंडे के आकार प्रकार से लेकर उसके फहराने, उतारने आदि के सम्बन्ध में बताया गया है और राष्ट्रीय गौरव अपमान निवारण अधिनियम में तिरंगे के उनुचित प्रयोग को रोकने के लिए एक्ट हैं । इसी राष्ट्रीय गौरव अपमान निवारण अधिनियम १९७१ के अनुसार “राजकीय अन्तेष्टियों या सशस्त्र सैन्य बलों को छोड़ कर झंडे का किसी अन्य रूप में लपेटने के लिए प्रयोग करना” तिरंगे के अपमान की श्रेणी में आता है ।

    ‘मित्र’ यही चाहता है कि देश के अपमान को रोकने वाले नियमों और कानूनों का उल्लंघन न हो। इतने प्रसिद्ध व्यक्तियों द्वारा जो नियमों का उल्लंघन हुआ है क्या उस से जनता में गलत सन्देश नहीं गया ? इन से प्रेरित हो कर कल और लोग भी यही करेंगे। एक नियम/ कानून जो विशेष तौर पर राष्ट्र सम्मान की रक्षा से जुड़ा है उसका उल्लंघन सीधा राष्ट्र का अपमान होगा जिस पर ‘मित्र’ चुप नहीं रह सकता । ‘मित्र’ यही चाहता है कि जो कानून है या तो उसका पालन हो या उस में परिवर्तन।
    निश्चित तौर पर श्री अमिताभ बच्चन एक बहुत अच्छे व्यक्ति हैं और सदी के महा नायक होने के नाते ये उनकी ज़िम्मेदारी बनती है कि वो राष्ट्र गौरव से जुड़े नियमों का पालन करें और अपनी प्रसिद्धि का लाभ ले कर इस सम्बन्ध में जागरूकता लाएं ।

    भारतीय झंडा संहिता २००२
    राष्ट्रीय गौरव अपमान निवारण अधिनियम १९७१

  • #896

    admin
    Keymaster

    Sabhyata aur samman bhi seemaon se bandhe hue hain shayad isiliye inki garima abhi baaki hai.

You must be logged in to reply to this topic.